धारा-370 हटाना ऐतिहासिक फैसला, देश की अखंडता के लिए उठाया कदम

सोनीपत, 05 अगस्त (सक्षम भारत)। महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन, विधायक एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी उमेश अग्रवाल, राष्ट्रीय परिषद राज्य कृषि विपणन बोर्ड की चेयरपर्सन एवं पूर्व मंत्री कृष्णा गहलावत व मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने जम्मू एवं कश्मीर में धारा-370 को हटाये जाने के निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि यह ऐतिहासिक फैसला है। देश के लिए आज स्वर्णिम दिवस है, जिसके सुखद परिणाम देखने को मिलेंगे। राष्ट्र की एकता व अखंडता के लिए धारा-370 को हटाना अति आवश्यक था, जो कि पूर्व सरकार नहीं कर सकी।

अनुच्छेद 370 को समाप्त करने पर मंत्री कविता जैन ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के लिए अध्यादेश पर हस्ताक्षर करने तथा राज्यसभा में गृहमंत्री अमित शाह द्वारा संकल्प पेश किए जाने को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की मजबूत इच्छाशक्ति करार दिया। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में अनुछेद 370 व आर्टिकल 35ए को समाप्त करते हुए वहां के लोगों को भी देश के अधिकारों में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि आज बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर का सपना भी साकार हुआ है। केंद्र सरकार के इस फैसले से देश में अलगाववादी और विघटनकारी ताकतों के हौंसले पस्त होंगे और देश मजबूती से आगे बढेगा।

गुरुग्राम के विधायक एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी उमेश अग्रवाल का कहना है कि जम्मू-कश्मीर मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह के नेतृत्व में केंद्र सरकार के साहसिक फैसले से देश की अखंडता और मजबूत हुई है। इस फैंसले से भाजपा ने जम्मू कश्मीर मुद्दे पर अपना बलिदान देने वाले स्वर्गीय श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भी अपनी सच्ची श्रद्धांजलि दी है। उन्होंने कहा कि यह निर्विवाद रूप से जम्मू-कश्मीर पर उठाया गया केंद्र सरकार का सबसे साहसिक कदम है। देश का आम नागरिक भी देश को मजबूती देने और जम्मू-कश्मीर में आतंक को पोषित करने वाले तत्वों पर सीधा प्रहार करने का इंतजार कर रहे थे। श्री अग्रवाल ने विश्वास जताया कि केंद्र सरकार के इस ऐतिहासिक फैंसले से जम्मू-कश्मीर में पाक प्रायोजित आतंकवाद का भी खात्मा होगा और आतंकवादियों को आश्रय देकर उन्हें पोषित करने वालों के हौंसले भी ध्वस्त होंगे। उन्होंने कहा कि देश की अखंडता के लिए उठाया गया यह कदम आतंकवाद को बढावा देने वाले पाक को भी स्पष्ट संदेश है कि भारत सरकार देशहित में कोई भी कड़ा फैंसला लेने में कोई संकोच नहीं करने वाली है।

चेयरपर्सन एवं पूर्व मंत्री कृष्णा गहलावत के आवास पर धारा-370 खत्म किये जाने की खुशी को एक उत्सव के रूप में मनाया गया। कार्यकर्ताओं ने ढ़ोलक की थाप पर तथा गुलाल उड़ाते हुए नाच-गाकर खुशी मनाई। श्रीमती गहलावत ने कहा कि हिंदुस्तान के दिल की आवाज थी कि जम्मू एवं कश्मीर से धारा-370 को हटाया जाए। उन्होंने कहा कि भाजपा के लिए राष्ट्र से बढकर कुछ नहीं है। जम्मू एवं कश्मीर में अनुच्छेद-370 व आर्टिकल 35 ए को समाप्त करके संपूर्ण भारत को एकसूत्र में पिरोया गया है। अब जम्मू एवं कश्मीर के लोगों को भी देश के कानून को मानना होगा। पूरे देश में एक कानून लागू होगा। अब देश के अन्य राज्यों के लोग भी जम्मू एवं कश्मीर में आवास स्थापित कर सकेंगे तथा व्यापार कर सकेंगे। जम्मू एवं कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया है।

मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाते हुए राष्ट्रपति द्वारा अध्यादेश के माध्यम से अनुच्छेद 370 एवं आर्टिकल 35ए को खत्म करने को देश की अखंडता और सुरक्षा के लिए कुर्बान होने वाले शहीद जवानों को सच्ची श्रद्धांजलि बताया। उन्होंने कहा कि एक राष्ट्र, एक निशान हमारा लक्ष्य है, जिसके लिए निरंतर गतिशील प्रयास किए जाएंगे। अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि राज्यसभा में गृहमंत्री अमित शाह द्वारा पेश किए गए संकल्प पर विभिन्न राजनीतिक दल के नेताओं द्वारा समर्थन दिए जाने को उन्होंने इस निर्णय को देश की आवाज करार दिया। उन्होंने कहा कि इस निर्णय से असामाजिक एवं गतिरोध उत्पन्न करने वाली विचारधारा का खात्मा होगा और देश, समाज प्रगति पथ पर आगे बढेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *