सोनू सूदः सेवा को तत्पर सिनेमा का नायक

-विवेक पाठक-

-: ऐजेंसी सक्षम भारत :-

वो बेटे के एक ट्वीट पर उसकी मां को ऑक्सीजन पहुंचा रह है। एक अनुरोध पर जीवनदायिनी दवा का इंतजाम कराता है। लॉकडाउन में फसे मजदूरों के लिए लग्जरी बस पहुंचाकर उन्हें घर की दहलीज तक सुरक्षा देता है। खुद बीमार होकर लगातार सबकी खैर खबर लेता है। कोरोना को 5 दिन में हराने की प्रेरक कहानी खुद असल जीवन में जीकर दिखाता है। वो महामारी के इस तांडव में सबकी पीठ पर विश्वास का हाथ नजर रखे हुए नजर आता है। फिर क्यों न कहें हम फिल्मों के ऐसे नायक को असली जिंदगी का महानायक।
दोस्तों अभिनेता सोनू सूद आपदा के इस काले अंधेरे में ऐसे नायक के रुप में ही हमारे सामने हैं। यूं तो फिल्मी दुनिया के अनेक सितारे किसी न किसी तरीके से लोगों की मदद कर रहे हैं। इनमें अक्षय कुमार, अजय देवगन से लेकर उत्तराखंड की उर्वशी रतौला आदि बहुत से नए पुराने सितारे हैं। कुछ सितारे खुद खर्च कर रहे हैं तो कुछ अपने संबंधों के जरिए स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के लिए काम कर रहे हैं। मथुरा की सांसद हेमामालिनी ने केट आरोह के जरिए ऑक्सीजन का कुछ इंतजाम कराया है। प्रियंका चोपड़ा अमेरिका से बैठकर अपने देश के लिए कुछ करती नजर आ रही हैं। उन्होंने अपने प्रशंसकों से आपदा में भारत की मदद का आहवान किया है। इन सारी नेकी को सैल्यूट। अगर कुछ नेकी चुपचाप की जा रही हैं तो उनको बारंबार सैल्यूट। हमारा आपका प्यारा भारत देश हर छोटे से छोटे सहयोग से इस समय आत्मविश्वास पाएगा। कोई दो राय नहीं सिनेमा की दुनिया से नेकी के इन प्रयासों में सोनू सूद मीलों आगे चल रहे हैं। पिछले साल 2020 में जब दुनिया को डराता हुआ कोरोना भारत आया तो लॉकडाउन से काफी कुछ बदल गया। सारे काम धंधों और कमाने खाने की दिनचर्या जैसे थम सी गयी। ऐसे दौर में हमारे श्रमिक और दिल्ली, मुंबई में महानगरों में रहने आए प्रवासी मजदूर सबसे पहले परेशान हुए। लॉकडाउन में जब वे घर के अंदर खाली जेब और खत्म राशन से दो चार हुए तो मीलों दूर पैदल ही अपने घर को निकल पड़े। जगह जगह पुलिस बैरीकेडिंग के बीच तपती धूप में मीलों बीबी बच्चों सहित पैदल चलते रहे। इन विकट दृश्यों से जब शासन प्रशासन जूझता नजर आया तो मदद के बड़े हुए हाथों में एक हाथ बड़े दिल वाले नायक सोनू सूद का भी था। उन्होंने भूखों को खाना, नंगे पैर वाले को जूते चप्पल से लेकर राशन, आवागमन को बस, रेल और यहां तक की हवाई जहाज के टिकट का इंतजाम भी कराया। वे साल भर से दवाई, बेड आदि के लिए मदद कर रहे थे और कोरोना की दूसरी लहर में भी उनका हौंसला कमजोर नहीं पड़ा है। मुंबई के अनेक सितारों की गाड़ी कमाई के बाबजूद ऐसी दिलेरी हर कोई नहीं दिखा पाया है। दशकों से पूरे भारत को कोका कोला और थम्सअप पिलाना सिखाने वाले हमारे अनेक सितारा बंधु क्या कितना कर रहे हैं वे ही जानते होंगे। वे जितना अभी कर रहे हैं उसके लिए उन्हें बहुत बहुत साधुवाद। वे इससे ज्यादा भी बहुत कुछ कर सकते हैं। हिन्दी फिल्मों के महानायक कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन भी जो कर रहे हों उसको बार बार प्रणाम। वे इसके आगे भी कई गुना ज्यादा कर सकते हैं क्योंकि उनका कद हर मोर्चे पर बहुत उंचा है। वे मदद के लिए देश भर के धनवानों से अपील क्यों नहीं करते। आमिर, सलमान, शाहरुख भी अब तक जो कर रहे हैं उसके लिए उनका अभिनंदन मगर देश जानता है कि वे इससे बहुत ज्यादा करने की ताकत रखते हैं। छोटे नवाब और पटौदी के जागीरदार सैफ अली खान को भी मुश्किल वक्त में तैमूर को गोदी से उतारकर और चैथी संतान का बराबर ख्याल रखते हुए मदद के इस अभियान में दमदारी से आगे आना चाहिए। दीपिका पादुकोण, स्वरा भास्कर, कांेकणा सेन शर्मा, जावेद अख्तर, शबाना आजमी को इस समय खुलकर मदद की अपील करना चाहिए और जो जितना खुद से बन पड़े लोगों की मदद करना चाहिए। कंगना रनौत को भी अपनी सितारा छवि के जरिए सावधानी की हर अपील बार बार लगातार करना चाहिए। वे और उन जैसे हर क्षमतावान नायक नायिका और फिल्मकार को दिल खोलकर लोगों की मदद करना चाहिए। करोड़ों के विज्ञापन और फीस आपको निर्माता भी देता है जब देश के ये लोग आपकी फिल्मों और विज्ञापनों को पसंद करते हैं। अपनी जेब ढीली करके आपकी फिल्में देखते हैं। आपकी की हुई मदद को बारंबार प्रणाम मगर आप सबको अभी रुकना नहीं है। आपकी आवाज में बहुत ताकत है। आप आपदा में देश के लोगों का हौंसला बढ़ा सकते हैं, डाॅक्टरों की नसीहत उनके दिल दिमाग में बैठा सकते हैं और अपने अपने बस तक बहुत सारी मदद कर सकते हैं तो ऐसा करते रहिए। सोनू सोद को आखिर में दुबारा सलाम। वे रास्ते बनाते हुए ऑक्सीजन, दवाएं आदि लेकर आगे आगे चल रहे हैं। बाकी सितारे तबीयत से उनका पीछा करें और नेकी की इस रेस में एक दूसरे को हराने में पीछे न रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *