शहीद ऊधमसिंह को पैंथर्स ने दी श्रद्धांजलि

नई दिल्ली, 31 जुलाई (सक्षम भारत)।

राष्ट्रीय चेतना अभियान के अन्तर्गत पैंथर्स पार्टी द्वारा आज शहीद ऊधमसिंह के 79वें बलिदान दिवस पर भावभीनी श्रद्धांजलि दी और सभी देशवासियों को क्रांतिकारी वीरों के नक्शेकदम पर चलने को कहा। शहीद ऊधमसिंह ने 1919 जलियांवाला नरसंहार का बदला नरसंहार करने वाले जनरल डायर को 1940 में लंदन में जाकर मौत के घाट उतारा। ऊधमसिंह लंदन में छुपते-छुपाते अलग-अलग नामों से पहुंचे और एक सेमिनार में किताब में पिस्तौल छुपाकर ले गये और भारतवासियों की मौत का बदला जनरल डायर की हत्या कर लिया। राज्य सरकारें व केन्द्र सरकारों ने छोटे-छोटे विज्ञापन देकर उनको श्रद्धांजलि दी, अगर यह किसी देश पर राज करने वाले प्रधानमंत्री का होता तो पूरे अखबारों के पेज भर दिये जाते हैं, मगर बड़े अफसोस की बात है कि क्रांतिकारी वीरों को याद करने की जिम्मेदारी लगता है कुछ देशप्रेमियों की ही रह गयी है। जिस देश में देश का इतिहास देशवासियों को नहीं दिखाया जाता तो वह देश तरक्की नहीं कर सकता।

दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष राजीव जौली खोसला ने कहा कि आज आजादी दिलाने वाले दिवानों जैसे सुभाष चंद्र बोस, भगतसिंह, राजगुरू, सुखदेव, अश्फाक उल्लाह खां, झांसी की रानी, बाल गंगाधर तिलक, तात्या टोपे, चंद्रशेखर आजाद, मंगल पांडे जैसे क्रांतिकारियों की पुनः जरूरत है देश से अन्याय और भ्रष्टाचार हटाने की। राष्ट्रीय चेतना अभियान के संरक्षक प्रो. भीमसिंह समता, समानता, एकता, शांति और उन्नति की दुहाई लगाते आ रहे हैं व समूल क्रांति के युद्ध में सभी देशवासियों को साथ चलने का आह्वान कर रहे हैं। समूल कं्राति गोली से नहीं आएगी, बल्कि देशवासियों की सोच से आएगी। खोसला ने कहा कि आगामी 28 सितम्बर को शहीद आजम भगतसिंह का जन्मदिन भी पैंथर्स पार्टी धूमधाम से मनाएगी। आज देश को जरूरत है शहीद भगतसिंह जैसे राष्ट्रवादी क्रांतिकारी विचारों की। इस शपथ ग्रहण के मौके पर राजीव जौली खोसला, राजस्थान पैंथर्स अध्यक्ष अनिल शर्मा, के.के. राघव, बलविंदर कुमार, आर.पी शर्मा, महफूज खान, दिलदार हुसैन बेग, ओम किशन, ए.जे. राजन आदि अनेक देशभक्त उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *