फ्लाइट में 6 महीने की बच्ची की मौत

नई दिल्ली, 25 जुलाई (सक्षम भारत)।

-इलाज कराने आ रहे थे दिल्ली

दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में दिल की बीमारी का इलाज कराने आ रही 6 महीने की बच्ची की फ्लाइट में मौत हो गई। बच्ची अपने माता-पिता के साथ फ्लाइट से दिल्ली आ रही थी। पुलिस के मुताबिक, मृतक बच्ची रचिता कुमारी लॉजेनिटल हार्ट डिजीज से परेशान थी। उसके दिल में छोटा से छेद था, जिसका एम्स में इलाज चल रहा था। उन्होंने बताया कि आईजीआई एयरपोर्ट को अस्पताल से जानकारी मिली थी, जिसमें बच्ची की मौत की बात कही गई थी।

डीसीपी एयरपोर्ट संजय भाटिया ने बताया कि बच्ची के माता-पिता ने भी मौत के बाद कोई आरोप नहीं लगाया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, बच्ची का दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा था, जिसके कारण उसे अक्सर दिल्ली आना पड़ता था। वह स्पाइस जेट की फ्लाइट एसजी 8481 से दिल्ली आ रही थी। इस दौरान उसकी तबीयत बिगड़ गई। किसी को कुछ समझ आता, इससे पहले ही बच्ची ने रेस्पॉन्स देना बंद कर दिया। दिल्ली एयरपोर्ट पर लैडिंग के बाद बच्ची को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद अस्पताल से पुलिस को जानकारी भेजी गई।

पुलिस के मुताबिक, बच्ची अपने परिवार के साथ बेगूसराय के एक गांव में रहती थी। पुलिस ने बच्ची के पिता राजेंद्र रंजन और मां डिंपल से बातचीत की, लेकिन उन्होंने मौत पर कोई आरोप नहीं लगाया। यह भी सामने आया है कि बच्ची की बीमारी के बारे में फ्लाइट क्रू को कोई जानकारी नहीं थी। जीबी पंत के डॉक्टर मोहित ने बताया कि फ्लाइट के अंदर प्रेशर ज्यादा होता है, जिसके कारण 6 महीने की बच्ची के साथ ऐसा हो सकता है। बच्ची बीमार थी और संभव है कि वह प्रेशर न झेल पाई हो और उसकी तबीयत बिगड़ गई हो। फ्लाइट में बच्ची को उस तरह का इलाज नहीं मिल पाता, जिस तरह का बेहतर इलाज अस्पताल में उपलब्ध होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *