खेल

जेम्स एंडरसन ने पलटा मैच का रुख, गिल-रहाणे को किया बोल्ड

चेन्नै, 09 फरवरी (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। जेम्स एंडरसन दुनिया के सबसे कामयाब तेज गेंदबाज हैं। टेस्ट क्रिकेट में 600 से ज्यादा विकेट लेने वाले इकलौते तेज गेंदबाज। एंडरसन ने दुनियाभर के बल्लेबाजों को परेशान किया है। भारत के खिलाफ चेन्नै के एमए चिदंबरम स्टेडियम मुकाबले के पांचवें दिन उन्होंने अपने पहले ही ओवर में मैच का रुख बदल दिया। पहले ही ओवर में उन्होंने शुभमन गिल और अजिंक्य रहाणे के डिफेंस को भेद दिया।

गिल को किया चलता
भारतीय पारी का 27वां ओवर और एंडरसन के लिए दिन का पहला। दूसरी गेंद पर ही गिल का ऑफ स्टंप हवा में लहराने लगा। गिल ने अभी अपनी हाफ सेंचुरी पूरी की थी। गेंद बल्ले पर अच्छी तरह आ रही थी। उनकी टाइमिंग भी अच्छी थी। लेकिन इस बार वह चूके। गेंद रिवर्स हो रही थई। एंडरसन ने गेंद को फुल पिच किया। ऑफ स्टंप के बाहर पिच हुई और टप्पा लगने के बाद अंदर आई। गिल के बल्ले और पैड के बीच काफी गैप था और गेंद उसके बीच से विकेटों तक जा पहुंची।

रहाणे हुए बोल्ड
गेंद रिवर्स स्विंग हो रही हो तो मौजूदा क्रिकेट में एंडरसन से बेहतर इसका फायदा भला कौन उठा सकता है? इसी ओवर की चैथी गेंद पर एंडरसन की गेंद उपकप्तान अजिंक्य रहाणे के पैड से टकराई। जोरदार अपील। अंपायर नितिन मेनन ने इसे नॉट आउट करार दिया। नजदीकी मामला लग रहा था। इंग्लैंड ने रिव्यू लेने का फैसला लिया। रिव्यू में यह बहुत नजदीकी मामला था। गेंद विकेटों से टकरा रही थी लेकिन वह ऑफ स्टंप के बाहर पैड से टकराई थी इसे अंपायर्स कॉल दिया गया। लेकिन अगली ही गेंद पर एंडरसन ने अंपायर के लिए कोई गुंजाइश नहीं छोड़ी। गेंद फिर रिवर्स हुई और टप्पा लगकर अंदर आई और इस बार भी उसकी मंजिल विकेट ही थी।

फिर पंत को किया चलता
इसके बाद भारतीय टीम दबाव में थी। कप्तान विराट कोहली का साथ देने आए ऋषभ पंत। पंत का स्वभाव आक्रामक खेल का है और उन्होंने इसी अंदाज में बल्लेबाजी करने का अहसास भी कराया। उन्होंने 2 चैकों की मदद से 11 रन बनाए। पारी के 33वें ओवर की तीसरी गेंद पर ऑफ स्टंप के बाहर थी। थोड़ी सी सीधी। पंत ने इसे ऐंगल बल्ले के साथ लेग साइड पर खेलना चाहा। हालांकि उन्हें अहसास हुआ कि ऐसा करना मुश्किल है, उन्होने अजस्ट करना चाहा लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। गेंद उनके शरीर से काफी दूर थी और गेंद सीधा शॉर्ट कवर के फील्डर के हाथ में गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ykhij,lhj,lhi