कड़ी सुरक्षा के बीच बाढ़ कोर्ट में पेश हुए अनंत सिंह, लगे छोटे सरकार जिंदाबाद के नारे

पटना, 25 अगस्त (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। प्रतिबंधित एके-47 राइफल और ग्रेनेड बरामदगी मामले में दिल्ली के साकेत कोर्ट में आत्मसमर्पण कर चुके बिहार में मोकामा से निर्दलीय विधायक अनंत सिंह को आज कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर लेकर पटना पहुंची, जहां से पेशी के लिए उन्हें बाढ़ ले जाया गया।

बाढ़ कोर्ट में विधायक अनंत सिंह को एसीजेएम के समक्ष रविवार की सुबह नौ बजकर 40 मिनट पर पेश किया गया। कड़ी सुरक्षा के बीच कैदी वैन से विधायक कोर्ट तक पहुंचते थे। अनंत सिंह के कैदी वैन से उतरते ही समर्थक अनंत सिंह जिंदाबाद, छोटे सरकार जिंदाबाद के नारे लगाने लगे। कोर्ट में पेशी के बाद अनंत सिंह को बेउर जेल लाया जा रहा है, जिसे लेकर पटना पुलिस अलर्ट हो चुकी है। कोर्ट में पेशी के दौरान ग्रामीण एसपी कांतेश कुमार मिश्र पूरी पुलिस टीम के साथ मौजूद थे। आधे घंटे अधिक का समय विधायक कोर्ट रूम के अंदर रहे। वहां उनके वकील भी मौजूद थे।

इससे पहले अपर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह के नेतृत्व में दिल्ली गयी टीम विधायक सिंह को लेकर विमान से पटना के जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा पहुंची। इसके बाद उन्हें अभूतपूर्व सुरक्षा व्यवस्था के बीच स्टेट हैंगर दो के गेट से बाहर निकाला गया और स्कार्पियों से लेकर पटना पुलिस की विशेष टीम बाढ़ के लिए सड़क मार्ग से रवाना हो गयी। इस दौरान आम लोगों का प्रवेश हवाईअड्डा परिसर में रोक दिया गया , केवल विमान यात्रियों को ही विशेष तलाशी के बाद जाने दिया जा रहा था।

आधिकारिक सूत्रों ने यहां बताया कि विधायक अनंत सिंह को बाढ़ ले जाने के क्रम में पटना से करीब 40 किलोमीटर की यात्रा के दौरान राष्ट्रीय उच्च पथ-30 के चप्पे-चप्पे पर पुलिस की तैनाती की गयी है। इस दौरान संदिग्धों पर विशेष नजर रखी जा रही है।

पुलिस ने इस वर्ष 16 अगस्त को बाढ़ अनुमंडल के लदमा गांव स्थित विधायक सिंह के पैतृक आवास पर छापेमारी की थी जहां से एक एके-47 रायफल और दो ग्रेनेड बरामद की गयी थी। इस मामले में विधायक सिंह फरार चल रहे थे। पटना पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार करने के लिए कई ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस बीच, विधायक ने बिहार की पुलिस से जान को खतरा बताया था।

हथियार बरामदगी मामले में फरार चल रहे विधायक ने नई दिल्ली के साकेत कोर्ट में 23 अगस्त को आत्मसर्पण कर दिया, जिसके बाद उन्हें तिहाड़ जेल में रखा गया था। पटना से गयी पुलिस की विशेष टीम ने शनिवार 24 अगस्त को साकेत कोर्ट में चार दिनों की ट्राजिंट रिमांड की अर्जी दी जिसे कोर्ट ने खारिज करते हुए निर्देश दिया था कि 48 घंटे के अंदर सिंह को बाढ़ के न्यायालय में पेश किया जाये।

सिंह को पटना से दिल्ली लाने गयी पुलिस टीम का नेतृत्व बाढ़ की अपर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने किया। विधायक सिंह ने शुक्रवार की रात तिहाड़ जेल में काटा। अदालत ने विधायक को सोमवार दोपहर तक बाढ़ कोर्ट में पेश करने का निर्देश दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *