डब्ल्यूएचओ प्रमुखः कोविड-19 ने खेलों को नहीं हराया है

तोक्यो, 21 जुलाई (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस एडहानोम गेब्रेसियस ने बुधवार को प्रतिस्पर्धाएं शुरू होने पर खेल अधिकारियों से कहा कि तोक्यो ओलंपिक का आकलन कोविड-19 मामलों की संख्या से नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि जोखिम को पूरी तरह खत्म करना असंभव है। गेब्रेसियस ने अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) की बैठक में अपने भाषण में कहा कि संक्रमण से कैसे निपटा गया यह सबसे अधिक मायने रखता है। उन्होंने कहा, ‘‘सफलता की निशानी यह है कि सुनिश्चित किया जाए कि अगर कोई भी मामला है तो जितनी जल्दी संभव हो उसकी पहचान हो, अलग थलग किया जाए, संपर्कों की पहचान हो और उपचार किया जाए तथा आगे संक्रमण फैलने के खतरे को खत्म किया जाए।’’

बुधवार को जापान में इस महीने खेलों से जुड़े कोविड-19 मामलों की कुल संख्या 79 है। गेब्रेसियस ने कहा, ‘‘आगामी पखवाड़े में सफलता की निशानी शून्य मामले नहीं हैं।’’ जापान में पहुंचने के बाद कुछ अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए हैं जिसमें तोक्यो खाड़ी में खेल गांव में रह रहे खिलाड़ी भी शामिल हैं। खेल गांव में 11 हजार प्रतिभागियों में से अधिकांश को रुकना है। संक्रमित खिलाड़ी के करीबी संपर्क वाले टीम के साथी ट्रेनिंग जारी रख सकते हैं। वे अलग थलग होकर और अतिरिक्त निगरानी के बीच प्रतियोगिता की तैयारी कर सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *