गलवान घाटी और पैन्गोंग झील के किनारे ’हिमवीरों’ का योगाभ्यास

नई दिल्ली, 21 जून (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का 7वां जश्न पाकिस्तान और चीन से लगती भारतीय सीमा पर भी मनाया गया। पूर्वी लद्दाख की 18 हजार फीट ऊंची बर्फीली पहाड़ियों, गलवान घाटी और पैन्गोंग झील के किनारे योगाभ्यास करके ‘हिमवीरों’ ने पूरी दुनिया को सन्देश दिया कि ऊंचाई पर ऑक्सीजन की कमी होने के बावजूद योग के सहारे ही भारतीय जवान दुश्मन के खिलाफ मोर्चा संभाले हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सभी को योग दिवस की बधाई देते हुए कहा कि योग एक प्राचीन भारतीय प्रथा है जो अब दुनिया भर में बेहद लोकप्रिय हो गई है। योग एक व्यक्ति को अधिक से अधिक मानसिक और शारीरिक कल्याण प्राप्त करने में मदद करता है। सर्वांगीण स्वास्थ्य और भलाई के लिए योग को अपने दैनिक जीवन में शामिल करें। भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवानों ने पूर्वी लद्दाख की 18 हजार फीट ऊंची बर्फीली पहाड़ियों, गलवान घाटी और चीन बॉर्डर के पास 14 हजार फीट की ऊंचाई पर पैन्गोंग झील के किनारे योगाभ्यास किया। लद्दाख में भी आईटीबीपी के जवानों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर 18,000 फीट की ऊंचाई पर योग किया। अरुणाचल प्रदेश में सीमा चैकी पर आईटीबीपी के जवानों ने योग का अभ्यास किया। जोशीमठ उत्तराखंड में आईटीबीपी के हिमवीरों ने योगाभ्यास किया। 7वीं बटालियन के जवानों ने ने मिर्थी, उत्तराखंड में योग का अभ्यास किया। अरुणाचल प्रदेश में आईटीबीपी के एनिमल ट्रेनिंग स्कूल, लोहितपुर के जवानों ने घोड़ों पर चढ़कर योग अभ्यास किया।आईटीबीपी की 48वीं बटालियन के हिमवीरों ने कटिहार, बिहार में योग का अभ्यास किया। 7वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर छत्तीसगढ़ के राजनादगांव में आईटीबीपी के जवान योग का अभ्यास करते दिखे। राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) गुवाहाटी में 60 असम गर्ल्स बीएन एनसीसी गुवाहाटी के कैडेट्स ने विभिन्न योगाभ्यास दिखाकर बताया कि योग हमें शारीरिक रूप से फिट और मानसिक रूप से मजबूत बनाते हैं। योग हमें तनाव से ताकत और नकारात्मकता से रचनात्मकता की ओर जाने का रास्ता दिखाता है। इन कैडेट्स ने बताया कि कैसे योग न केवल शारीरिक और मानसिक विश्राम प्रदान करता है बल्कि विशेष रूप से वर्तमान महामारी के समय में ताकत और लचीलापन भी विकसित करता है। जोरहाट जीपी एनसीसी (जेंगराईमुख कॉलेज) के कैडेट कृष्णा कुंभांग ने घर पर ही रहकर योग किया। 64 असम गर्ल्स बीएन एनसीसी के कैडेट्स ने भी योग का जश्न मनाया। जोरहाट जीपी एनसीसी के तहत 51 एयर (टी) स्क्वाड्रन के एनसीसी के कैडेट्स ने घर पर ही योगभ्यास किया। गुवाहाटी जीपी के तहत 48 असम नेवल यूनिट एनसीसी के कैडेटों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया और परिवारों को भी योग सत्र में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित किया। जोरहाट जीपी एनसीसी के तहत 12 असम (आई) एनसीसी के कैडेट तिरंगा चेट्री ने अपने घर में योग करते हुए स्वस्थ रहने का सन्देश दिया। जोरहाट जीपी एनसीसी के कैडेट देव कुमार ने हमारे दैनिक जीवन में योग के महत्व के बारे में बताया। 1 असम बीएन एनसीसी के कैडेट ने घर पर योग का प्रदर्शन करते हुए विभिन्न योग मुद्राओं को उनके लाभों के साथ दिखाया जिसे कैडेटों के बीच प्रसारित किया गया। 1 के नेवल यूनिट एनसीसी एमजी कॉलेज त्रिवेंद्रम ने ऑनलाइन लाइव योग सत्र में सक्रिय रूप से भाग लेकर योग दिवस 2021 मनाया। 1 केरल नौसेना एनसीसी, सेंट जेवियर्स कॉलेज, थुंबा, त्रिवेंद्रम ने भी योग दिवस मनाया। 1 केरल नौसेना इकाई एनसीसी और द स्कूल ऑफ द गुड शेफर्ड ने ऑनलाइन योग सत्र का आयोजन किया। योग दिवस मनाने के लिए एनसीसी नौसेना विंग और एसएनएचएसएस उजमालाक्कल ने भी कार्यक्रम आयोजित किये। भारतीय सशस्त्र बल पूर्वी लद्दाख में चीन सीमा पर तैनात भारतीय योद्धा सैनिकों ने अपनी चपलता और सतर्कता बढ़ाने के लिए बौद्ध मंत्रों के साथ योग का अभ्यास किया। नौसेना की पूर्वी कमान के नौसैनिकों ने वियतनाम में आईएनएस ऐरावत पर योगाभ्यास किया। नौसेना का यह जहाज इस समय वियतनाम के कैमरान्ह बंदरगाह पर तैनात है। इसलिए नौसैनिकों ने वियतनाम में योग फॉर वेलनेस विषय के साथ 7वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया। भारतीय वायु सेना की ओर से सन्देश जारी किया गया कि आइए, हम अपने शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए योग को अपनाएं। वायुसेना की तरफ से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2021 की बहुत बहुत शुभकामनाएं। लखनऊ के कमांड अस्पताल में कैंसर रोगियों की भावना को सलाम जिन्होंने अपने बेड पर ही बैठे-बैठे ऑनलाइन सहायता से योग का अभ्यास किया। इन कैंसर रोगियों ने स्वास्थ्य के लिए योग का अभ्यास करने और एक स्वस्थ जीवन शैली अपनाने के लिए प्रतिबद्ध होने का सन्देश दिया। आज सुबह पुणे के ऐतिहासिक आगा खान पैलेस में भारतीय जवानों ने योगासन का प्रदर्शन करके सन्देश दिया कि योग के साथ स्वस्थ जीवन शैली का जश्न मनाएं। घर पर योग का अभ्यास करें और शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए इसके लाभों का आनंद लें। जम्मू-कश्मीर में सेना की व्हाइट नाइट कॉर्प ने बाबा गरीब दास अकादमी में सलोत्री और पुंछ के बच्चों के लिए फन योगा फॉर वेलनेस कैंप आयोजित किया जिसमें बच्चों ने मस्ती करते हुए योग सीखा। इसी तरह किश्तवाड़ जिले में प्रकृति की गोद में आवाम के लिए भारतीय सेना ने योग कैम्प लगाया। हैदराबाद में सेना की इकाई ने सन्देश दिया कि योग कई तरह से स्वास्थ्य लाभ, उत्साह और सहज क्षमता में विकसित करता है। इसलिए अपने मन और शरीर को संतुलित रखने के लिए योग को दैनिक जीवन में शामिल करें।अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर 119 प्रादेशिक सेना के जवानों ने शिलांग में योग का अभ्यास किया। केन्द्रीय सैनिक बोर्ड ने कहा कि योग स्वास्थ्य और कल्याण के लिए एक समग्र दृष्टिकोण है। कोरोनाकाल में योग के साथ रहें, घर पर रहें। योग वह प्रकाश है जो एक बार जला दिया जाए तो कभी कम नहीं होता। जितना अच्छा आप अभ्यास करेंगे, लौ उतनी ही उज्जवल होगी। रक्षा मंत्रालय की गुवाहाटी इकाई ने सन्देश दिया कि योग आपको वर्तमान क्षण में ले जाता है। एकमात्र स्थान जहां जीवन मौजूद है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *