मिश्रा की फिरकी का चला जादू, दिल्ली ने मुंबई को छह विकेट से हराया

चेन्नई, 20 अप्रैल (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। अनुभवी लेग स्पिनर अमित मिश्रा के फिरकी के जादू के बाद बल्लेबाजों के उम्दा प्रदर्शन से दिल्ली कैपिटल्स ने इंडियन प्रीमियर लीग में मंगलवार को यहां मुंबई इंडियन्स को छह विकेट से हराकर गत चैंपियन टीम के खिलाफ लगातार पांच हार के क्रम को तोड़ दिया।

मुंबई के 138 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दिल्ली ने सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (45) और स्टीव स्मिथ (33) की पारियों की बदौलत 19.1 ओवर में चार विकेट पर 138 रन बनाकर जीत दर्ज की। ललित यादव ने भी नाबाद 22 रन की पारी खेली।

मुंबई की टीम मिश्रा (24 रन देकर चार विकेट) की फिरकी के सामने नौ विकेट पर 137 रन रन ही बना सकी। आवेश खान ने मिश्रा का अच्छा साथ निभाते हुए 15 रन देकर दो विकेट हासिल किए जबकि आफ स्पिनर ललित यादव ने भी चार ओवर में 17 रन देकर एक विकेट चटकाया। मुंबई की ओर से कप्तान रोहित शर्मा ने सर्वाधिक 44 रन बनाए। उनके अलावा इशान किशन (26), सूर्यकुमार यादव (24) और जयंत यादव (23) ने भी उपयोगी पारियां खेली।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की शुरुआत भी खराब रही और टीम ने दूसरे ओवर में ही पृथ्वी साव (07) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने आफ स्पिनर जयंत को उन्हीं की गेंद पर कैच थमाया।

धवन और स्मिथ की अनुभवी जोड़ी ने इसके बाद पारी को संभाला। दोनों ने पावर प्ले में टीम का स्कोर एक विकेट पर 39 रन तक पहुंचाया।

दिल्ली के रनों का अर्धशतक आठवें ओवर में पूरा हुआ जिसके बाद नौवें ओवर में स्मिथ ने कृणाल पंड्या पर दो चैके मारे।

स्मिथ हालांकि 29 गेंद में 33 रन बनाने के बाद कीरोन पोलार्ड की गेंद पर पगबाधा हो गए जिससे धवन के साथ उनकी 53 रन की साझेदारी का अंत हुआ।

धवन ने राहुल चाहर और जसप्रीत बुमराह पर चैके के साथ रन गति में इजाफे का प्रयास किया। बायें हाथ के इस बल्लेबाज ने चाहर की लगातार गेंदों पर छक्का और चैका जड़ा लेकिन इसी ओवर में कृणाल को कैच दे बैठे। धवन ने 42 गेंद का सामना करते हुए पांच चैके और एक छक्का मारा।

दिल्ली की टीम को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 37 रन की दरकार थी। पंत (07) ने बोल्ट पर चैके से खाता खोला लेकिन बुमराह की गेंद पर फाइन लेग पर कृणाल को कैच दे बैठे। ललित ने इस बीच बुमराह पर चैका जड़ा।

शिमरोन हेटमायर (नाबाद 14)ने बोल्ट पर चैके के साथ रन और गेंद के बीच के अंतर को कम किया जिसके बाद दिल्ली को अंतिम दो ओवर में 15 रन की जरूरत थी।

बुमराह ने 19वें ओवर में दो नोबाल सहित 10 रन देकर दिल्ली की राह आसान की। पोलार्ड को अंतिम ओवर में दिल्ली को पांच रन बनाने से रोकना था लेकिन हेटमायर ने पहली गेंद पर चैका जड़कर दिल्ली की जीत की राह आसान कर दी।

इससे पहले रोहित ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन टीम ने तीसरे ओवर में ही क्विंटन डिकॉक का विकेट गंवा दिया जिन्होंने एक रन बनाने के बाद मार्कस स्टोइनिस की गेंद पर विकेटकीपर कप्तान ऋषभ पंत को कैच थमाया।

रोहित और सूर्यकुमार ने इसके बाद पारी को आगे बढ़ाया। रोहित ने तीसरे ओवर में स्टोइनिस पर पारी का पहला चैका जड़ा और फिर रविचंद्रन अश्विन और कागिसो रबादा पर छक्के मारे। सूर्यकुमार ने भी मिश्रा का स्वागत लगातार दो चैकों के साथ किया।

मुंबई ने पावर प्ले में एक विकेट पर 55 रन बनाए।

सूर्यकुमार हालांकि आवेश खान की गेंद को थर्ड मैन पर खेलने की कोशिश में विकेटकीपर पंत को कैच दे बैठे।

रोहित ने भी इसके बाद मिश्रा की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में लांग आन पर स्टीव स्मिथ को कैच दे दिया। उन्होंने 30 गेंद का सामना करते हुए तीन चैके और तीन छक्के मारे।

हार्दिक पंड्या भी मिश्रा के इसी ओवर में रोहित के शॉट को दोहराने की कोशिश में लांग आन पर स्मिथ के हाथों लपके गए। वह खाता भी नहीं खोल पाए।

कृणाल पंड्या भी पांच गेंद में एक रन बनाने के बाद ललित यादव की गेंद को विकेटों पर खेल गए जबकि मिश्रा ने कीरोन पोलार्ड (02) को पगबाधा किया जिससे मुंबई का स्कोर एक विकेट पर 67 रन से छह विकेट पर 84 रन हो गया।

मुंबई के रनों का शतक 15वें ओवर में पूरा हुआ। इशान किशन ने अश्विन पर छक्का और रबादा पर चैके के साथ रन गति में इजाफा करने का प्रयास किया लेकिन मिश्रा ने उन्हें बोल्ड कर दिया। उन्होंने 28 गेंद में एक चैके और एक छक्के से 26 रन बनाए।

जयंत यादव ने भी 23 रन बनाने के बाद रबादा को उन्हीं ही गेंद पर कैच थमाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *