व्यापार

अमेरिकी डॉलर के प्रभुत्व का मुकाबला करने को चीन की युआन पूलिंग योजना

बीजिंग, 28 जून (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। चीन के केंद्रीय बैंक ने अमेरिकी डॉलर के प्रभुत्व का मुकाबला करने के लिए युआन पूलिंग योजना बनाई है। इसके तहत स्विट्जरलैंड स्थित बैंक फॉर इंटरनेशनल सेटलमेंट्स (बीआईएस) के साथ एक समझौता किया गया है।

बीआईएस के साथ पिछले शनिवार को हुए समझौते पर हस्ताक्षर करने वाले पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना (पीबीओसी) ने रिजर्व पूल बनाकर भविष्य में बाजार की अस्थिरता के दौरान सहभागी केंद्रीय बैंकों को नकदी सहायता देने का लक्ष्य रखा है।

चीन के शीर्ष बैंक ने कहा कि यह व्यवस्था युआन की उचित अंतरराष्ट्रीय मांग को पूरा करने के लिए है और इससे क्षेत्रीय वित्तीय सुरक्षा को बढ़ावा मिलेगा।

पीबीओसी ने कहा कि इस व्यवस्था में शुरू में एशिया और प्रशांत क्षेत्र के केंद्रीय बैंक शामिल हैं, जिनमें बैंक इंडोनेशिया, सेंट्रल बैंक ऑफ मलेशिया, हांगकांग मॉनीटरी अथॉरिटी, मॉनीटरी अथॉरिटी ऑफ सिंगापुर और सेंट्रल बैंक ऑफ चिली प्रमुख हैं।

हांगकांग स्थित साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने मंगलवार को बताया कि यह योजना अमेरिकी डॉलर के प्रभुत्व का मुकाबला करने और वैश्विक निवेशकों द्वारा सुरक्षित स्थानों की तलाश के बारे में चिंता के बीच आई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ykhij,lhj,lhi