कमिन्स ने साथियों से कहा, छींटाकशी करने या किसी को प्रभावित करने की जरूरत नहीं

मेलबर्न, 12 जनवरी (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। आस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान पैट कमिन्स ने अपने खिलाड़ियों से छींटाकशी करने के बजाय स्वयं के काम पर ध्यान देने के लिये कहा है।

गेंद से छेड़छाड़ के 2018 के प्रकरण के बाद आस्ट्रेलिया की क्रिकेट संस्कृति में बदलाव आया है। इंग्लैंड के खिलाफ वर्तमान एशेज श्रृंखला में एक भी अप्रिय घटना नहीं घटी जिसके लिये कमिन्स ने अपने नेतृत्वकौशल को ही नहीं बल्कि अपने साथी खिलाड़ियों को भी श्रेय दिया।

इंग्लैंड के खिलाड़ियों ने सिडनी टेस्ट की दोनों पारियों में शतक जड़ने वाले उस्मान ख्वाजा के प्रयासों की सराहना की तो आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने भी विरोधी टीम के क्रिकेटरों के अच्छे प्रदर्शन को सराहा।

कमिन्स ने कहा कि उनकी नेतृत्व शैली काफी हद तक इंग्लैंड के सीमित ओवरों के कप्तान इयोन मोर्गन से मिलती है।

‘सिडनी मॉर्निंग हेरल्ड’ के अनुसार कमिन्स ने कहा, ‘‘मैं अलग तरह के नेतृत्वकर्ताओं पर गौर करता हूं और मुझे इयोन मोर्गन जैसा नेतृत्वकर्ता पसंद है। मुझे कप्तानी पर उनका दृष्टिकोण पसंद है और वह कैसे टीम को एकजुट करता है। मैंने पिछले कुछ वर्षों से आईपीएल में इयोन के साथ काम किया है और जीवन को लेकर हमारा नजरिया एक जैसा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं अपने सभी खिलाड़ियों को अपनी अलग पहचान बनाने के लिये प्रोत्साहित करता रहता हूं। उन्हें किसी को प्रभावित करने या छींटाकशी करने का प्रयास करने की जरूरत नहीं है क्योंकि अतीत में ऐसा होता रहा है।’’

कमिन्स ने कहा कि उन्हें अपनी टीम के व्यवहार पर गर्व है।

उन्होंने कहा, ‘‘इसमें कोई संदेह नहीं कि पहला टेस्ट मैच बहुत सहजता से खेला गया और यह (छींटाकशी) नजर रखने वाली चीज है। आप इस क्षेत्र में अपने कार्यों से आगे बढ़ते हैं।’’

कमिन्स ने कहा, ‘‘उन्हें पता कि आस्ट्रेलिया के क्रिकेट प्रशंसक उनसे क्या चाहते हैं। मैं सारा श्रेय नहीं लूंगा, मेरे साथियों ने बहुत अच्छी भूमिका निभायी है।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *