लखीमपुर कांड में मारे गए बहराइच के किसानों के परिवारों से मिलीं प्रियंका गांधी

बहराइच, 08 अक्टूबर (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लखीमपुर खीरी हिंसा में मृतक किसानों के परिजनों से मिलने के लिए बहराइच पहुंचीं। इस दौरान उन्होंने किसानों के परिवारों को न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के डिजिटल मीडिया संयोजक और प्रवक्ता अंशू अवस्थी ने बताया कि प्रियंका गांधी बहराइच के ब्लॉक रिसिया के गांव नबीनगर के शहीद किसान गुरविंदर सिंह पुत्र सतविंदर सिंह के घर पहुंचीं और परिवारजनों से मुलाकात की गुरविंदर के परिवारजनों ने प्रियंका गांधी से मिलकर कहा कि उनका बेटा शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहा था, उस पर गाड़ी चढ़ाई गई और उसके बाद गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस पर प्रियंका काफी भावुक हुईं और उन्होंने परिवारजनों को भरोसा दिलाया कि कांग्रेस पार्टी आप को न्याय दिलाने की लड़ाई अंत तक लड़ेगी। आपको डरने की कोई जरूरत नहीं है। इस दौरान उन्होंने परिवारजनों को अपना मोबाइल नंबर भी दिया और किसी भी समय जरूरत पर बात करने को कहा।

अंशू अवस्थी ने बताया कि प्रियंका गांधी नानपारा के गांव बंजारन टाडा पहुंचीं और शहीद किसान दलजीत पुत्र हरजीत सिंह के परिवारजनों से मुलाकात की। उनके परिजनों ने बताया, हमारा बेटा शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहा था, उस पर गाड़ी चढ़ाकर उसकी हत्या कर दी गई। सभी ने प्रियंका गांधी से मांग की कि उन्हें इंसाफ चाहिए और जो भी हत्यारे हैं, उनको कड़ी से कड़ी सजा मिले। इस पर प्रियंका गांधी ने न्याय दिलाने का भरोसा दिया।

इससे पहले, प्रियंका गांधी लखीमपुर खीरी हिंसा में मृतक किसानों के परिजनों से मिलने के लिए बहराइच पहुंचीं तो उनके काफिले को घाघराघाट पर रोक लिया गया। हालांकि, कांग्रेसियों के प्रदर्शन करने के बाद प्रशासन ने सिर्फ तीन लोगों को किसानों के परिजनों से मिलने की अनुमति दी, जिसके बाद प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस नेता पी.एल. पुनिया और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को जाने की इजाजत दी। वहीं, अन्य कांग्रेसियों ने प्रदर्शन किया, जिससे घाघराघाट पर जाम लग गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *