टी20 विश्व कप टीम में चयन नहीं होने का मतलब सबकुछ खत्म होना नहीं रू सिराज

मुंबई, 17 सितंबर (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने कहा है कि हाल ही में संपन्न हुआ इंग्लैंड दौरा अच्छा अनुभव रहा और वह खुश हैं कि सीरीज के दौरान वह कप्तान विराट कोहली के भरोसे पर खरा उतर सके।

सिराज ने लॉर्ड्स टेस्ट में आठ विकेट लिए थे और टीम को 151 रनों जीत दिलाने और 1-0 की बढ़त हासिल कराने में अहम भूमिका निभाई थी।

सिराज ने स्पोटर्सस्टार से कहा, कल्पना के किसी भी हिस्से से इंग्लैंड का दौरा एक शानदार अनुभव था। मुझे खुशी है कि मैं अपने कप्तान विराट भाई, मुख्य कोच रवि शास्त्री, सहयोगी स्टाफ और पूरी टीम का भरोसा कायम कर सका।

सिराज ने हालांकि कहा कि वह इस साल अक्टूबर-नवंबर में यूएई और ओमान में होने वाले आईसीसी टी20 विश्व कप के लिए टीम में नहीं चुने जाने से थोड़ा निराश हैं।

सिराज ने कहा, चयन हमारे हाथ में नहीं है। टी20 विश्व कप में खेलना निश्चित रूप से एक सपना था। लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि सब खत्म हो गया है। मेरे पास और भी कई लक्ष्य हैं। सबसे बड़ा लक्ष्य टीम को मैच जीतने में मदद करने में मुख्य भूमिका निभाना है।

उन्होंने कहा, मैं भाग्य में विश्वास करता हूं और मुझे जो भी अवसर मिलते हैं उसमें संतुष्ट रहता हूं, हालांकि उच्चतम स्तर पर उत्कृष्टता की खोज जारी है।

सिराज ने कहा कि इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी जैसे तेज गेंदबाजों के साथ गेंद साझा करना शानदार अनुभव रहा।

सिराज ने कहा, निश्चित रूप से, शमी भाई, इशांत भाई और जसप्रीत बुमराह भाई जैसे बड़े नामों के साथ गेंदबाजी करना मेरे लिए सीखने की एक बड़ी उपलब्धि रही। वे बहुत सहायक थे और हमेशा मेरी गेंदबाजी में सुधार करने के लिए अमूल्य सुझाव देते थे।

उन्होंने कहा कि इंग्लैंड सीरीज से पहले कोहली की एक सलाह ने उन्हें दौरे के दौरान मदद की और लॉर्डस में अपने आठ विकेट लेने का श्रेय उसी को दिया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *