केएल राहुल अपनी योजना में स्पष्ट थेः रोहित शर्मा

लंदन, 13 अगस्त (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का मानना है कि केएल राहुल अपनी शतकीय पारी के दौरान दिमाग में बिना किसी विचार के साथ खेले और उन्होंने योजना का कार्यान्वयन शानदार ढंग से किया।

रोहित ने भी 83 रन की आकर्षक पारी खेली और राहुल के साथ पहले विकेट के लिये 126 रन की भागीदारी निभायी। राहुल ने दूसरे टेस्ट के पहले दिन नाबाद 127 रन बना लिये थे।

रोहित ने गुरूवार को दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा, ‘‘मैंने केएल को जब भी बल्लेबाजी करते हुए देखा है, उसमें शायद यह सर्वश्रेष्ठ पारी थी और वह पहली गेंद से आज दिन के अंत तक पूरी तरह से पारी पर नियंत्रण बनाये हुए था। ‘‘

इस सीनियर खिलाड़ी ने कहा, ‘‘किसी भी जगह ऐसा नहीं लगा कि वह भ्रमित था या कुछ ज्यादा सोच रहा था। वह अपनी रणनीति के बारे में काफी स्पष्ट दिख रहा था और जब आप अपनी योजनाओं पर भरोसा करते हो तो यह निश्चित रूप से कारगर होता है। मुझे लगता है कि आज उसका दिन था और उसने सही में इसका पूरा फायदा उठाया। ‘‘

रोहित की खुद की पारी ने नींव रखी और वह इस बात से भी खुश थे कि वह और राहुल दोनों नयी गेंद का सामना करते हुए नियंत्रण बनाये रहे जिससे जोखिम भरे शॉट कम रहे।

रोहित ने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट की यही चुनौती है। आप भले ही बहुत सारे शॉट खेलते हो लेकिन जब आप जानते हो कि परिस्थितियां आपके खिलाफ है तो आपको खुद पर संयम बनाते हुए उन शॉट को कम खेलना होता है जो गैर जरूरी हो विशेषकर नयी गेंद से। ‘‘

उन्होंने कहा, ‘‘एक बार आप जब खेलने लगते हो और आपको पिच और स्थितियों का अंदाजा हो जाता है तो आप इनमें से कुछ शॉट को खेलने की कोशिश कर सकते हो। हम यहां की परिस्थितियों का सम्मान करते हुए खेले लेकिन यह भी जरूरी है कि हम अपनी योजना के अनुसार खेलें। हमने बल्लेबाजी ग्रुप के तौर पर इसमें काफी अच्छा किया है – आस्ट्रेलिया दौरे से लेकर आज तक। ‘‘

उन्हें लगता है कि अब बल्लेबाज अपनी भूमिका को बेहतर तरीके से जानते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे बल्लेबाज अब अपनी भूमिका को जानते हैं जो सबसे अहम चीज होती है और मुझे लगता है कि वे अपनी भूमिकाओं के हिसाब से खेल रहे हैं।

यह पूछने पर कि उनके और केएल के बीच क्या चर्चा हुई क्योंकि वे पहली बार इंग्लैंड में पारी का आगाज कर रहे थे तो उन्होंने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो कोई चर्चा नहीं हुई थी क्योंकि केएल को पहला मैच नहीं खेलना था, मयंक (अग्रवाल) को उस मैच में खेलना था। ‘‘

रोहित ने कहा, ‘‘दुर्भाग्य से उसके (मयंक) के सिर में चोट लग गयी और ‘कनकशन’ के कारण वह नहीं खेले जिसके बाद केएल आये। जब हम बल्लेबाजी के लिये उतरे तो हम चर्चा कर रहे थे कि हमें क्या करने की जरूरत है। इसी तरह की चीजें। हां, टेस्ट क्रिकेट में मैं पहली बार केएल के साथ खेला हूं लेकिन मैं उसके साथ कई बार बल्लेबाजी कर चुका हूं। ‘‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *