रिलायंस इंडस्ट्रीज की 44वीं एजीएम की बैठक पर टिकीं कारोबारी जगत की निगाहें

नई दिल्ली, 24 जून (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की गुरुवार दोपहर बाद 2 बजे शुरू होने वाली एनुअल जनरल मीटिंग (एजीएम) पर कारोबारी जगत की निगाहें टिकीं हैं। माना जा रहा है कि आज की एजीएम में सऊदी अरामको सौदा, 5-जी सर्विस शुरू करने की टाइम लाइन, 5-जी फोन और जियो बुक लैपटॉप की लॉन्चिंग के संबंध में बड़े ऐलान किए जा सकते हैं। इस एनुअल जनरल मीटिंग के ठीक पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज का उत्साह बढ़ाने वाली एक खबर और सामने आई है। इस खबर के मुताबिक ग्लोबल रेटिंग एजेंसी फिच ने रिलायंस इंडस्ट्रीज की फॉरेन करेंसी रेटिंग बढ़ाकर बीबीबी कर दी है। वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज की लोकल करंसी आउटलुक बरकरार रखी गई है। बताया जा रहा है कि आज के एजीएम में तेल से रसायन (ओ-2-सी) कारोबार को लेकर बड़ा ऐलान किया जा सकता है। इस कारोबार के डी-मर्जर पर नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) की मंजूरी के संबंध में भी आज की एजीएम में अपडेट दिया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने इस साल फरवरी में अपने ओ-2-सी कारोबार के डी-मर्जर का ऐलान किया था। कंपनी की ओर से कहा गया था कि डी-मर्जर से ओ-2-सी कारोबार में नए मौके तलाशने में मदद मिलेगी। इस कारोबार के लिए रिलायंस ने नई सब्सिडियरी बनाने की बात भी कही थी। रिलायंस इंडस्ट्रीज की ओर से बताया गया था कि नई सब्सिडियरी बनानेके बाद ओ-2-सी कारोबार में पेट्रोकेमिकल, गैस और फ्यूल रिटेलिंग के काम को शामिल किया जाएगा। रिलायंस इंडस्ट्रीज के आज के एजीएम में केजी-डी6 ब्लॉक से प्राकृतिक गैस के उत्पादन पर भी अपडेट दिया जा सकता है। देश के पूर्वी तट पर स्थित केजी-डी6 ब्लॉक से प्राकृतिक गैस की आपूर्ति की प्रक्रिया के लिए इसी साल मई में बोली लगाई गई थी, जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज ने ब्रिटेन की बीपी पीएलसी के साथ मिलकर रिलायंस बीपी कंसोर्टियम की ओर से 3 से 5 साल की अवधि के लिए 55 लाख क्यूबिक मीटर अतिरिक्त गैस के उत्पादन की पेशकश की थी। आज की एजीएम में रिलायंस इंडस्ट्रीज की फ्यूल रिटेलिंग और इलेक्ट्रिक व्हीकल को लेकर तैयार की गई योजना के बारे में भी जानकारी दी जा सकती है। इसके साथ ही रिलायंस के रिटेल कारोबार और जियोमार्ट तथा व्हाट्सएप के बीच हुई डील के बारे में भी आरआईएल के शेयर धारकों को जानकारी दी जा सकती है। आपको बता दें की आरआईएल की पिछली एजीएम और आज होने जा रही एजीएम के बीच की अवधि में कंपनी के बैलेंस शीट में तुलनात्मक तौर पर मजबूती आई है। इसके साथ ही कंपनी का कैश फ्लो भी बढ़ गया है। इसी दौरान रिलायंस इंडस्ट्रीज नेट कर्ज से भी मुक्त हो गई है। बताया जा रहा है कि इन वजहों से रिलायंस इंडस्ट्रीज आज के एजीएम के दौरान बड़े इन्वेस्टमेंट प्लान और कुछ नए सेक्टर में काम शुरू करने का भी ऐलान कर सकती है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *