स्पेन की युवा टीम ने लिथुवानिया को हराया, फ्रांस भी जीता

लंदन, 09 जून (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। स्पेन की युवा खिलाड़ियों से सजी टीम ने यूरोपीय फुटबॉल चैंपियनशिप के अभ्यास मैच में लिथुवानिया को 4-0 से करारी शिकस्त दी।

स्पेन ने कप्तान सर्जियो बासक्वेट के कोविड-19 के लिये पॉजिटिव पाये जाने के बाद मैच के लिये अपनी अंडर-21 टीम के खिलाड़ियों से टीम तैयार की।

इस मैच के लिये जिन 20 खिलाड़ियों को टीम में शामिल किया गया था उनमें से 19 खिलाड़ी कभी सीनियर टीम में नहीं खेले थे।

इस मैत्री मैच को सीनियर स्तर पर अंतरराष्ट्रीय दर्जा दिया गया था। यह कोच लुइ डि ला फुएंटे का भी मुख्य टीम के साथ आधिकारिक तौर पर पहला मैच था।

डि ला फुएंटे ने शुरुआती एकादश में 10 नये खिलाड़ियों को रखा। ब्रायन गिल एकमात्र ऐसे खिलाड़ी थे जिन्हें सीनियर टीम की तरफ से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने का अनुभव था। इससे पहले स्पेन ने सीनियर स्तर पर 1941 में 10 खिलाड़ियों को पदार्पण का मौका दिया था।

वेलेंसिया के डिफेंडर ह्यूगो गुइलमोन ने तीसरे मिनट में ही स्पेन की तरफ से गोल किया जबकि ब्राहिम डियाज ने 24वें मिनट में बढ़त दोगुनी कर दी। जुआन मिरांडा ने दूसरे हाफ के नौवें मिनट में तीसरा जबकि स्थानापन्न जावी पाउडो ने 73वें मिनट में गोल करके पदार्पण करने वाले खिलाड़ियों के लिये इसे यादगार रात बना दिया।

इस बीच फ्रांस ने एक अन्य मैच में बुल्गारिया को 3-0 से हराया लेकिन इस मैच में उसके स्टार खिलाड़ी करीम बेंजेमा के चोटिल होने से यूरोपीय चैंपियनशिप से पहले उसकी चिंताएं बढ़ गयी। बेंजेमा केवल 41 मिनट तक ही मैदान पर रह पाये।

बेंजेमा की जगह मैदान पर उतरे ओलिवर गिरोड ने आखिरी सात मिनट में दो गोल किये। उनसे पहले एंटोनी ग्रीजमैन ने 29वें मिनट में पहला गोल किया था।

अन्य अभ्यास मैचों में चेक गणराज्य ने अल्बानिया को 3-1 से हराया, आइसलैंड और पोलैंड का मैच 2-2 से जबकि हंगरी और आयरलैंड का मैच गोलरहित बराबर छूटा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *