मई महीने के मौसम को लेकर सब हैरान, दिल्ली में बारिश और लू दोनों का ही बन गया रेकॉर्ड

नई दिल्ली, 21 मई (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। पिछले तीन दिनों से राजधानी दिल्ली का मौसम बदला हुआ है। ताउते के कारण बारिश हो रही और लोग गर्मी मानो भूल गए हैं। मौसम के मामले में मई महीने में बारिश के साथ ही साथ लू का भी रेकॉर्ड टूट गया।

दिल्ली में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण शुक्रवार को भी बारिश हुई। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केन्द्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि सफदरजंग में सुबह साढ़े आठ बजे 2.6 मिमी बारिश दर्ज की गई। 2014 के बाद पहली बाद सफदरजंग में मानसून पूर्व अवधि में लू नहीं दर्ज की गई।

वहीं, पालम, लोधी रोड और आयानगर में क्रमशः 5.8 मिमी, 3.2 मिमी और 10.6 मिमी बारिश दर्ज की गई। श्रीवास्तव के अनुसार, पालम में भी इस साल लू दर्ज नहीं की गई। उन्होंने कहा आखिरी बार 2011 में ऐसा हुआ था।

आईएमडी के अनुसार, मैदानी इलाकों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक या सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस अधिक होने पर लू घोषित की जाती है। सामान्य से 6.5 डिग्री अधिक तापमान होने पर भीषण लू की घोषणा की जाती है। अधिकारी ने कहा कि लगातार पश्चिमी विक्षोभ के कारण और फिर च्रकवाती तूफान ताउते के कारण उत्तर भारत में बारिश हुई।

इस बीच, दिल्ली में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और अधिकतम तापमान 35 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है।आईएमडी के अनुसार, दिल्ली में पश्चिमी विक्षोभ और च्रकवाती तूफान ताउते के कारण गुरुवार को सुबह आठ बजे तक पिछले 24 घंटे में 119.3 मिमी बारिश दर्ज की गई और इसके साथ मई में बारिश के सभी रेकॉर्ड टूट गए। इससे पहले 24 मई 1976 को एक दिन में 60 मिमी बारिश दर्ज की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *