मुख्तार अंसारी को हिरासत में लेने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की टीम पंजाब पहुंची

चंडीगढ़, 06 अप्रैल (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। पंजाब के रूपनगर जिले की जेल में बंद गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को वापस लाने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की टीम मंगलवार को रूपनगर पहुंची। गैंगस्टर से नेता बना अंसारी उत्तर प्रदेश में कई मामलों में वांछित है। अधिकारियों ने इस बारे में बताया। उन्होंने बताया कि सुबह करीब साढ़े चार बजे सात वाहनों में उत्तर प्रदेश पुलिस रूपनगर पुलिस लाइन पहुंची। पुलिस लाइन रूपनगर जेल से करीब चार किलोमीटर दूर है। रंगदारी के एक मामले में अंसारी जनवरी 2019 से इसी जेल में बंद है। पंजाब के गृह विभाग ने उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर आठ अप्रैल या उससे पहले अंसारी को रूपनगर जेल से हिरासत में लेने के लिए कहा था। विभाग ने 26 मार्च के उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) को पत्र लिखा था। उच्चतम न्यायालय ने अपने आदेश में पंजाब सरकार को अंसारी को दो सप्ताह के भीतर रूपनगर जेल से उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में भेजने का निर्देश दिया था। मऊ से बसपा विधायक अंसारी को पंजाब से लाने के लिए आधुनिक हथियारों से लैस पीएसी की एक कंपनी समेत उत्तर प्रदेश पुलिस की 150 सदस्यीय टीम सोमवार सुबह बांदा से चली थी। शीर्ष अदालत ने 26 मार्च को अपने आदेश में इस बात पर गौर किया था कि अंसारी हत्या के प्रयास, हत्या, धोखाधड़ी और साजिश रचने के मामलों समेत गैंगस्टर कानून के तहत उत्तर प्रदेश में दर्ज अपराध के कई मामलों में कथित रूप से शामिल रहा है और इनमें से 10 मामलों में सुनवाई अलग-अलग चरणों में पहुंच गयी है।
पत्र में पंजाब के गृह विभाग ने उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) को अंसारी को भेजने के लिए उचित इंतजाम करने के लिए कहा है। पत्र में कहा गया है, ‘‘आठ अप्रैल या उससे पहले अंसारी को रूपनगर जिला जेल से सौंप दिया जायेगा।’’ इसमें यह भी कहा गया है कि अंसारी कुछ बीमारियों से ग्रसित है और जेल से ले जाने की व्यवस्था करने के वक्त इस बात को ध्यान में रखा जाये। उत्तर प्रदेश पुलिस ने कहा है कि अंसारी पर प्रदेश और उससे बाहर 52 मामले चल रहे हैं और इनमें से 15 में सुनवाई चल रही है। बांदा जिला जेल के कार्यवाहक अधीक्षक प्रमोद तिवारी ने कहा कि अंसारी के लिए बैरक नंबर – 15 में सारे इंतजाम किये गये हें और कोई भी कैदी वहां पहुंच नहीं सकता। उन्होंने बताया, ‘‘बैरक में जेल के तीन सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे।’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *