आउट होने के बाद बोले फखर जमां- डि कॉक का कोई कसूर नहीं, मेरी ही गलती

जोहान्सबर्ग, 05 अप्रैल (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। साउथ अफ्रीका के खिलाफ फखर जमां का रन-आउट होना काफी सुर्खियों में चल रहा है। इसे लेकर साउथ अफ्रीका के विकेटकीपर क्विंटन डि कॉक आलोचकों के निशाने पर हैं। सवाल यह भी उठ रहा है कि क्या यह ‘फेक फील्डिंग’ है। हालांकि रविवार को हुए इस मुकाबले के बाद जमां ने अपने आउट होने की जिम्मेदारी किसी और पर नहीं दी है। उन्होंने खुद पर ही इसकी जिम्मेदारी ले ली है। पाकिस्तान के सलामी बल्लेबाज मैच के आखिरी ओवर में 193 रन बनाकर रन आउट हुए। लॉन्ग ऑफ से एडिन मार्करम के डायरेक्ट थ्रो पर जमां स्ट्राइकर ऐंड पर क्रीज से पीछे रह गए। इस बात को लेकर विवाद तब शुरू हुआ जब साउथ अफ्रीका के विकेटकीपर क्विंटन डि कॉक का इशारा कैमरे में कैद हो गया। इसमें लग रहा था कि जैसे थ्रो नॉन-स्ट्राइकर छोर पर आ रहा है। फखर जमां ने पीछे मुड़कर देखा और उनकी रफ्तार कम हो गई थी। हालांकि, जमां ने अपने आउट होने की जिम्मेदारी डि कॉक पर नहीं डाली। उन्होंने कहा कि यह उनकी खुद की गलती थी। जमां ने कहा, ‘गलती मेरी थी, मैं ही दूसरे छोर पर हारिस राउफ को देखने में ज्यादा व्यस्त था। मुझे लगा था कि उन्होंने क्रीज से देरी से शुरुआत की थी। तो मुझे लगा कि शायद वह मुश्किल में हो सकते हैं। बाकी अब मैच रेफरी पर है, लेकिन मुझे नहीं लगता कि यह क्विंटन डि कॉक की कोई गलती है।’ डि कॉक के इशारे को लेकर हालांकि कुछ भी निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता। हो सकता है कि उन्होंने वाकई मार्करम से नॉन-स्ट्राइक छोर पर थ्रो करने को कहा हो। लेकिन थ्रो उनकी ओर आ गया और सोशल मीडिया पर इसे लेकर बवाल मच गया। कई लोग डि कॉक पर स्पिरिट ऑफ द गेम के खिलाफ बताया। अगर अंपायर डि कॉक की हरकत को जानबूझकर की गई हुई पाते तो मेजबान टीम को न सिर्फ पांच रन की पेनल्टी लगती बल्कि उस गेंद पर बने रन भी उसमें जोड़े जाते। साथ ही वह गेंद भी दोबारा फेंकनी पड़ती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *