चकमा परिषद के सीईएम रसिक मोहन चकमा ने इस्तीफा दिया, भाजपा के छह सदस्य एमएनएफ में शामिल

आइजोल, 30 मार्च (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। चकमा स्वायत्त जिला परिषद (सीएडीसी) के मुख्य कार्यकारी सदस्य (सीईएम) रसिक मोहन चकमा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई। रसिक मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के सदस्य हैं। सीएडीसी सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की ओर से जारी बयान में बताया गया कि रसिक ने अपना इस्तीफा राज्यपाल पी एस श्रीधरन पिल्लई को सोमवार को सौंपा। परिषद के अध्यक्ष एच अमरेश चकमा को 26 मार्च को बजट सत्र की पहली बैठक के दौरान लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के बाद हटा दिया गया था जिसके दो दिन बाद रसिक ने इस्तीफा दिया है। वक्तव्य में कहा गया कि रसिक मोहन चकमा के इस्तीफे के साथ ही सीएडीसी की वर्तमान कार्यकारी समिति भंग हो गई है और नई समिति का गठन किया जाएगा। इस बीच सीएडीसी में भाजपा को तगड़ा झटका लगा है क्योंकि उसके आठ में से छह सदस्य पार्टी छोड़कर 27 मार्च को एमएनएफ में शामिल हो गए। एमएनएफ की ओर से सोमवार को जारी एक बयान में यह जानकारी दी गई। वक्तव्य में बताया गया कि एमएनएफ के नेता और खेल मंत्री रॉबर्ट रोमाविया रोयते ने बुद्धलीला चकमा, अजय कुमार चकमा, ओनीश मय चकमा, अनिल कांति चकमा, हीरानंद तोंगचांगया और संजीव चकमा को पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक समारोह के दौरान सोमवार को पार्टी में औपचारिक तौर पर शामिल कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *