रोटरी इंटरनेशनल ने नारायण सेवा संस्थान को 1.34 करोड़ रुपये की निधि दी

वाशिंगटन, 26 मार्च (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। ‘रोटरी इंटरनेशनल’ संगठन ने नारायण सेवा संस्थान (एनएसएस) को दिव्यांग लोगों के लिए कृत्रिम अंगों (प्रोस्थेटिक्स) और ऑर्थोटिक्स का निर्माण एवं आपूर्ति करने वाली इकाई स्थापित करने के लिए 1.34 करोड़ रुपये की निधि दी है। ऑर्थोटिक्स ऐसे उपकरण होते हैं जो उन मांसपेशियों, जोड़ों या शरीर के उन अंगों को सहारा देते हैं जो कमजोर होते हैं। एनएसएस भारत में दिव्यांग लोगों के लिए काम करने वाला एक संगठन है। एनएसएस भारत के दूरवर्ती इलाकों में शिविर लगाकर कृत्रिम अंगों और ऑर्थोटिक्स का निशुल्क वितरण करेगा। बुधवार को मीडिया में जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, एनएसएस ने 2019 में दिव्यांग लोगों के लिए निधि जुटाने के वास्ते बच्चों के जरिए जॉर्जिया, अटलांटा, अमेरिका में ‘सेवा प्रोजेक्ट’ के तहत एक अभियान शुरू किया था। इस अभियान के जरिए बच्चों ने सामुदायिक सेवा के जरिए निधि इकट्ठा की जहां उन्होंने सोडा, चाय, समोसा, पॉपकॉर्न बेचे और ‘सेवा प्रोजेक्ट’ के बारे में भी बताया। उत्तर अमेरिका के गुजराती सांस्कृतिक संघ के अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, ‘‘हमें सेवा प्रोजेक्ट शुरू करने के लिए अपने सहयोगियों पर गर्व है और हम रोटरी क्लब ऑफ एमरी ड्रुड ऑफ हिल्स के आभारी हैं जिसने इस परियोजना को वैश्विक स्तर पर पहुंचाया।’’ एनएसएस के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने इस अभियान का समर्थन करने के लिए रोटरी इंटरनेशनल का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *