अपनी पुरानी रैंकिंग व्यवस्था में लौट रहा है डब्ल्यूटीए

सेंट पीटर्सबर्ग, 26 मार्च (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। कोरोना महामारी के कारण टूर्नामेंट रद्द होने से लगभग ‘फ्रीज’ हुई 52 सप्ताह वाली रैंकिंग व्यवस्था को ढर्रे पर लाने के लिये महिला टेनिस संघ प्रयास कर रहा है। इसकी गणना करना कठिन है लेकिन रैंकिंग अंक खिलाड़ी के कुल अंक में न्यूनतम एक और अधिकतम दो वर्ष के लिये जुड़ेंगे। ये बदलाव पांच अप्रैल को मियामी ओपन खत्म होने के बाद से लागू होंगे। इसमें गणना इस तरह से की जायेगी कि 2019 में खेले गए टूर्नामेंटों को लेकर 2021 पर लौटा जायेगा और 2020 छोड़ दिया जायेगा। इसमें मियामी और मैड्रिड ओपन शामिल होगा। ये अंक 104 सप्ताह बाद हट जायेंगे। डब्ल्यूटीए ने इससे पहले खिलाड़ियों से मार्च 2019 से अपने शीर्ष 16 टूर्नामेंटों के अंकों की गणना के लिये कहा था। इससे 2020 में कोरोना महामारी के कारण अधिकांश टूर्नामेंटों से बाहर रहने वाली नंबर एक खिलाड़ी ऐश बार्टी जैसे खिलाड़ियों के अंकों पर अब असर नहीं पड़ेगा। मसलन बार्टी ने 2019 में फ्रेंच ओपन जीता लेकिन अक्टूबर 2020 में हुआ यह टूर्नामेंट नहीं खेला। इससे अब उनके अंकों पर असर नहीं होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *