एनसीटीसी ने कृत्रिम सूती धागे से डंपिंगरोधी शुल्क हटाने की प्रधानमंत्री से की अपील

नई दिल्ली, 11 जनवरी (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। कपड़ा एवं वस्त्र की राष्ट्रीय समिति (एनसीटीसी) ने कृत्रिम सूती धागे (विस्कोस स्टेपल फाइबर /वीएसएफ) पर से डंपिंगरोधी शुल्क हटाने की प्रधानमंत्री से अपील की। समिति ने वीएसएफ कपड़ा मूल्य श्रृंखला में रोजगार के नुकसान को रोकने के लिये इसकी उपलब्धता और मूल्य संबंधी मुद्दों का समाधान निकालने की भी अपील की। एनसीटीसी मंच के अंतर्गत परिधान निर्यात संवर्धन परिषद, भारतीय वस्त्र उद्योग परिसंघ, भारतीय कपड़ा विनिर्माण संगठन, इंडियन स्पिनर्स एसोसिएशन और पावरलूम विकास निर्यात संवर्धन परिषद समेत वीएसएफ मूल्य श्रृंखला के विभिन्न खंडों के प्रमुखों ने प्रधानमंत्री को एक संयुक्त ज्ञापन सौंपा। इसमें वैश्विक प्रतिस्पर्धिता हासिल करने और कपड़ा मंत्रालय के द्वारा 2025 तक कपड़ा व परिधान क्षेत्र को 350 अरब डॉलर का बनाने के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये वीएसएफ के आयात पर डंपिंग रोधी शुल्क हटाने की मांग की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *