बोइंग ‘737 मैक्स’ को लेकर लगे आरोपों पर 2.5 अरब डॉलर का जुर्माना देगी

वाशिंगटन, 08 जनवरी (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। विमानन कंपनी बोइंग अमेरिका में न्याय विभाग की एक जांच को बंद करने के लिए 2.5 अरब डॉलर का भुगतान करने को तैयार हो गई है और इसके साथ ही कंपनी ने माना कि उसके कर्मचारियों ने 737 मैक्स विमान की सुरक्षा के बारे में नियामकों को गुमराह किया था, जिनके विमानन सेवाओं में प्रवेश करते ही दो प्राणघातक दुर्घटनाएं हुईं थीं। सरकार और कंपनी ने गुरुवार को कहा कि बोइंग द्वारा दी जाने वाली राशि में दुर्घटना से पीड़ितों परिवारों, विमानन कंपनी के ग्राहकों को मुआवजा और जुर्माना शामिल है। सुनवाई के दौरान सरकारी वकील ने कहा कि बोइंग के कर्मचारियों ने संघीय उड्डयन प्रशासन को विमान के सुरक्षा कारकों के बारे में भ्रामक और अधूरी जानकारी दी और फिर अपने कृत्य को छिपाने की कोशिश की। कार्यवाहक अटॉर्नी जनरल डेविड बर्न्स ने कहा कि बोइंग के कर्मचारियों ने साफगोई की जगह मुनाफे का रास्ता चुना। बोइंग ने इसके लिए दो पूर्व पायलटों को दोषी ठहराया, जिन्होंने यह निर्धारित करने में मदद की कि मैक्स के लिए कितना प्रशिक्षण जरूरी था। कंपनी के सीईओ डेविड कैलहौन ने कहा कि इन कर्मचारियों का आचरण बोइंग के चरित्र को नहीं दर्शाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *