पीवी सिंधु को बढ़ती यात्रा पाबंदियों के बावजूद ब्रिटेन से थाइलैंड की यात्रा करने की उम्मीद

नई दिल्ली, 23 दिसंबर (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। इंग्लैंड में ट्रेनिंग कर रहीं वर्ल्ड चैंपियन शटलर पीवी सिंधु ने मंगलवार को उम्मीद जताई कि ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर अन्य देशों के बढ़ते प्रतिबंध के बावजूद वह जनवरी में टूर्नमेंट के लिए थाइलैंड की यात्रा कर पाएंगी। ब्रिटेन में कोविड-19 के नए स्ट्रेन के चलते स्थिति बदतर हो गई है। तोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफाइ कर चुकीं सिंधु पिछले दो महीने से लंदन में ट्रेनिंग कर रही हैं। कोरोना वायरस ब्रेक के बाद उन्हें अपना पहला टूर्नमेंट थाइलैंड में खेलना है।

दो सुपर 1000 प्रतियोगिताओं (12 से 17 जनवरी और 19 से 24 जनवरी) में हिस्सा लेने के लिए सिंधु को तीन जनवरी तक बैंकॉक पहुंचना होगा। सिंधु ने कहा, ‘मैंने जनवरी के पहले हफ्ते में यात्रा की योजना बनाई है। थाइलैंड में ब्रिटेन से आने वालों के लिए यात्रा प्रतिबंध नहीं है, इसलिए मैं दोहा से यात्रा कर सकती हूं। मैं खाड़ी के देशों के रास्ते थाइलैंड जाने की योजना बना रही हूं।’

भारत सहित दुनिया भर के कई देशों ने ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगाया है। इंग्लैंड के कोरोना वायरस के नए और अधिक संक्रमित प्रकार को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। सिंधु अक्टूबर में लंदन गईं थी और वह ब्रिटेन के बैडमिंटन खिलाड़ियों टोबी पेंटी और राजीव ओसेफ के साथ राष्ट्रीय ट्रेनिंग केंद्र में ट्रेनिंग कर रही हैं।

सिंधु ने कहा, ‘मेरी ट्रेनिंग काफी अच्छी चल रही है। नैशनल सेंटर बंद नहीं हैं। इसे जैविक रूप से सुरक्षित केंद्र के रूप में चलाया जा रहा है, इसलिए मैं थाइलैंड में होने वाली प्रतियोगिताओं से पहले अभ्यास कर पा रही हूं।’

थाइलैंड चरण के साथ अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन की वापसी होगी लेकिन देश में लोकतंत्र समर्थक विरोध अभियान का सामना करना पड़ा है और हाल में वहां कोविड-19 मामलों में भी इजाफा हुआ है। खेल मंत्रालय ने हाल में सिंधु के आग्रह को स्वीकार किया था कि जनवरी में तीन टूर्नमेंट के लिए उनका निजी फिजियो और फिटनेस ट्रेनर उनके साथ जाए।

25 साल की सिंधु ने पिछली बार मार्च में ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप में हिस्सा लिया था जिसके बाद कोविड-19 महामारी के कारण सभी प्रतियोगिताएं रद्द या स्थगित कर दी गईं। अक्टूबर में सिंधु डेनमार्क ओपन से हट गईं थी जो मार्च से आयोजित होने वाले दो टूर्नमेंटों में से एक था। इसके अलावा जर्मनी में सारलोरलक्स ओपन सुपर-100 टूर्नमेंट का आयोजन किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *