पुलिस की मिलीभगत से सुल्तानपुरी बना नशे में उड़ता पंजाब

क्षेत्रा में प्रतिदिन 50 करोड़ की स्मैक व नशीले इंजेक्शन की खुलेआम ध्ड़ल्ले से ब्रिकी पर प्रदर्शन
(वरिष्ठ/क्राईम संवाददाता)

-: ऐजेंसी/सक्षम भारत :-
नई दिल्ली। सुल्तानपुरी, समाज सेवी संस्था हिन्दू युवा समाज एकता आवाम आतंकवादी विरोध्ी समिति के अध्यक्ष ओम प्रकाश राठौर ने सुल्तानपुरी पुलिस की मिलीभगत, हफ्रता वसूली के चलते क्षेत्रा मे खुले आम स्मैक, नशीले इंजेक्शन व गांजे का करोबार हर ब्लाक में खुलेआम ध्ड़ल्ले से चल रहा है।
स्मैक/नशा मापिफया ने नशीले पदार्थ बेचने के लिए छोटे-बच्चो को स्मैक पीने वालो को ही प्रतिदिन एक पुड़िया/गांठ और एक इंजेक्शन का लालच देकर क्षेत्रा में नशीले पदार्थ बिकबाये जा रहे है। नशा मापिफया एक ही ठीये पर कई दर्शको से अपना कारोबार स्थानीय पुलिस की मिलीभगत से वे रोक टोक करते है, अध्यक्ष ने बताया की इस गोरखध्ंधे की जानकारी ए.सी.पी से लेकर डीसीपी तक को भी होती है परन्तु लाखो रूपये की अवैध् व काली कमाई के कारण इन शातिर अपराध्यिो पर कार्यवाही नही की जाती है, कानूनी कार्यवाही केवल रशम अदायागी पैसे के लालच में लगे नौजवान व नाबालिक और नशे के आदियों पर एपफ.आई.आर दर्ज कर खाना-पूर्ति कर दी जाती है।
अध्यक्ष ने बताया की नशे का विरोध् करने वाले समाजसेवियों के खिलापफ पफर्जी एपफ.आई.आर दर्ज कर उनको थाने और कोर्ट के चक्कर लगवाते है, उन्हे और उनके बच्चो को थाने में बंद करने की ध्मकी देते है।
सुल्तानपुरी पुलिस को नशा करोबार से 50 लाख रूपये की काली कमाई के कारण पुलिस अपनी सारी हद पार कर नशे का विरोध् करने वाले और नशा मापिफया की पी.सी.आर 100/112 पर काॅल करने वालो को ही जबरन एसीपी/डीसीपी का नाम लेकर पुलिस की पूरी गैंग से उठवाकर उन्हे तरह-तरह की पड़ताड़ना देते है।
समाज सेवी संस्था हिन्दू युवा समाज एकता आवाम आतंकवादी विरोध्ी समिति के अध्यक्ष ने नशा कारोबार के विरोध् प्रदर्शन कर जल्लुस निकाला, पुलिस की मिलीभगत से स्मैक, नशीले इंजेक्शन, गांजा प्रतिदिन 30 करोड़ से लेकर 50 करोड़ रूपये तक की बिक्री की जाती है।
सुल्तानपुरी नशे के कारोबार मे उड़ता पंजाब बन गया है, स्मैक, नशीले, इंजेक्शनो का स्कूली छात्रा-छात्रायें व बेरोजगार युवा/युवती नशे की जद मे आ रहे है।
समिति अध्यक्ष ने बताया की क्षेत्रा की ए-3, ए-2, ए-5, ए-ब्लाक एल.एस.सी मार्किट, झुग्गीयां, बी-4, पी-1, पी-4, सी-10 की मटके वाली झुग्गीयां, सी-3, एसीपी कार्यालय के सामने, डी-5, डी-6, डी-7, ई-1, ई-3, एपफ-6, एपफ-7 की भल्ला पफैक्टी की झुग्गीया अस्सी गज में बढ़ता जा रहा है, नशे का करोबार एच-1 व मच्छी मार्किट झुग्गीयां और बांस-बल्ली झुग्गीयो मे खुले आम नशे का कारोबार कई वर्षो से पुराने बी.सी नशा मापिफया ही कर रहे है, क्योकि पुलिस से कापफी गहरी सांठ-गांठ है और पुराने अड्डो पर ही नशे का कारोबार उड़ते पंजाब की तरह किया जा रहा है।
समिति ने अवैध् नशा कारोबार की कई बार शिकायते की परंन्तु कोई कार्यवाही नही की गई।
एसएचओ व एएसपी सुल्तानपुरी झुठी वह मनगण्डत स्टेट्स रिपोर्ट बना कर माननीय प्रधनमंत्राी, मुख्यमंत्राी व आयुक्त, दिल्ली पुलिस के गुमराह करते है, नशीले अवैध् कारोबार का विरोध् करने वालो को शिकायत का आदि बताकर खाना-पूर्ति कर देते है और नशा मापिफया से अपनी डबल हफ्रता वसूली कर शिकायतकर्ता का नाम, पता बताकर उनसे लड़ाई-झगड़ा करवाकर झूठी एपफआईआर दर्ज करवा देते है जिससे की शिकायतकर्ता नशे के खिलापफ कोई भी शिकायत व पुलिस की मिलीभगत उजागर ना कर सके और अवैध् नशे का कारोबार युंही पफलता-पफुलता रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *