यूजीसी ने एमफिल, पीएचडी के लिए शोध प्रबंध जमा कराने की अवधि जून, 2022 तक बढ़ाई

नई दिल्ली, 02 दिसंबर (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने एमफिल और पीएचडी छात्रों के लिए शोध प्रबंध (थीसिस) जमा कराने की अवधि अगले साल 30 जून तक बढ़ा दी है।

यूजीसी के सचिव रजनीश जैन ने कहा, ‘‘शोधकर्ताओं के व्यापक हित को ध्यान में रखते हुए, विश्वविद्यालय एमफिल और पीएचडी छात्रों को अपने शोध प्रबंध जमा करने के लिए 31 दिसंबर के बाद छह और महीने यानी 30 जून, 2022 तक का समय दे सकते हैं। यह भी अधिसूचित किया जाता है कि शोध प्रबंध जमा करने की अवधि को विस्तार देकर जून तक किए जाने की घोषणा ऐसे सभी छात्रों पर लागू होगी, जिनके शोध प्रबंध जमा कराने की नियत तारीख 30 जून या उससे पहले है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, छह महीने का विस्तार दो सम्मेलनों में प्रस्तुति और प्रकाशन के साक्ष्य प्रस्तुत करने के लिए भी दिया जा सकता है। बहरहाल, फेलोशिप की अवधि केवल पांच साल ही रहेगी।’’

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *