पाकिस्तान का चालू खाता घाटा 2021.22 में बढ़कर 12.17 अरब डॉलर हो सकता हैरू इमरान खान के पूर्व सहयोगी

इस्लामाबादए 16 सितंबर (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के पूर्व सहयोगी और अनुभवी नौकरशाह वकार मसूद खान ने कहा कि पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पर चालू वित्त वर्ष के दौरान दबाव बढ़ जाएगा और 2021.22 में उसे 12 .17 अरब डॉलर के चालू खाते के घाटे का सामना करना पड़ सकता है।

समाचार पत्र डॉन की एक रिपोर्ट के अनुसार खान ने बुधवार को कराची स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन ;आईबीएद्ध में एक पुस्तक विमोचन समारोह में कहा कि पाकिस्तान के भुगतान संकट के गंभीर होने की आशंका है।

रिपोर्ट में उनके हवाले से कहा गयाए ष्ष्पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष के दौरान भुगतान संतुलन के बढ़ते संकट के कारण दबाव में रहेगी। देश को 2021.22 के लिए 12 अरब अमेरिकी डॉलर से 17 अरब अमेरिकी डॉलर के चालू खाते के घाटे का सामना करना पड़ सकता है।ष्ष्

खान ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ;आईएमएफद्ध कार्यक्रम के फिर से लागू होते ही देश को ब्याज दरए विनिमय दरए कराधान और ऊर्जा नीतियों में बड़े बदलाव की उम्मीद करनी चाहिए।

खान ने हाल ही में प्रधानमंत्री के विशेष सहायक ;राजस्व और वित्तद्ध का पद छोड़ा है। उन्होंने 2013 से 2017 तक संघीय वित्त सचिव के रूप में कार्य किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *