जैमीसन डब्ल्यूटीसी फाइनल में लक्ष्य का पीछा करने के तनाव से बचने के लिए बाथरूम में छिप गये थे

लंदन, 29 जून (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। भारत के खिलाफ विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) मुकाबले के अंतिम दिन न्यूजीलैंड के लक्ष्य का पीछा करने के दौरान पैदा हुए तनाव और घबराहट ने तेज गेंदबाज काइल जैमीसन को बाथरूम (शौचालय) में छिपने के लिए मजबूर कर दिया था। फाइनल में अपने सात विकेट के लिए मैन ऑफ द मैच रहे जैमीसन ड्रेसिंग रूम से मुकाबला देखकर घबरा गए थे। जैमीसन ने ‘गोल्ड एएम’ पर ‘कंट्री स्पोर्ट ब्रेकफास्ट’ को बताया, ‘‘ देखने के मामले में यह शायद क्रिकेट का सबसे कठिन दौर था, जिसका मैं हिस्सा रहा हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ हम अंदर बैठे थे और वास्तव में टीवी पर देख रहे थे। टेलीविजन पर सीधा प्रसारण थोड़ी (कुछ सेकेंड) देरी से हो रहा था। मैदान में मौजूद भारतीय दर्शक हर गेंद पर ऐसे शोर कर रही थी जैंसे विकेट गिर गया हो। वह हालांकि एक रन या डॉट गेंद होती थी।’’

कप्तान केन विलियमसन और अनुभवी रोस टेलर ने हालांकि 139 रन के लक्ष्य का पीछा कर न्यूजीलैंड को आठ विकेट की जीत दिला दी।

उन्होंने कहा, ‘‘ यह देखना काफी कठिन था। मैंने वास्तव में कई बार बाथरूम में जाने की कोशिश की, जहां कोई शोर नहीं था, बस थोड़ी देर के लिए उससे दूर हो गया क्योंकि यह काफी तनाव हो रहा था। ‘‘

लंबे कद के इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘ लेकिन केन और रॉस का मैदान पर होना अच्छा था। हमारे दो सबसे महान बल्लेबाजों ने वास्तव में स्थिति को नियंत्रित किया और अपने काम पूरा किया।’’

जैमीसन को हालांकि इस जीत का जश्न मनाने के लिए पर्याप्त समय नहीं मिला क्योंकि फाइनल के 48 घंटे के अंदर उन्हें फिर से मैदान पर उतरना पड़ा। इस बार अपनी काउंटी टीम सर्रे के लिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *