चैधरी, इलावेनिल का यूरोपीय चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन

ओसियेक (क्रोएशिया), 25 मई (ऐजेंसी/सक्षम भारत)। महिला 10 मीटर एयर राइफल में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी इलावेनिल वलारिवान और पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल में दुनिया के दूसरे नंबर के निशानेबाज सौरभ चैधरी ने सोमवार को यहां यूरोपीय निशानेबाजी चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन किया। क्रोएशिया में ट्रेनिंग यह प्रतियोगिता शिविर के दौरान ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके भारत के 13 राइफल और पिस्टल निशानेबाजों में से 10 को प्रतिस्पर्धा पेश करने का पहला मौका मिला। न्यूनतम क्वालीफिकेशन स्कोर (एमक्यूएस) वर्ग में प्रतिस्पर्धा पेश करते हुए चैधरी ने पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल वर्ग में टूर्नामेंट में शीर्ष पर रहे निशानेबाज से अधिक अंक जुटाए। विश्व कप और एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता चैधरी 589 अंक के साथ एमक्यूएस वर्ग में शीर्ष पर रहे। भारत के ही अभिषेक वर्मा ने 579 अंक के साथ चैथा स्थान हासिल किया। तोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर चुके चैधरी उक्रेन के ओलेह ओमेलचुक से आगे रहे जो 586 अंक के साथ मुख्य क्वालीफिकेशन में शीर्ष पर रहे। युवा ओलंपिक के स्वर्ण पदक विजेता चैधरी और वर्मा क्रोएशिया में ट्रेनिंग सह प्रतियोगिता शिविर के बाद तोक्यो रवाना होंगे। महिला 10 मीटर एयर राइफल में दुनिया की नंबर एक भारतीय इलावेनिल वलारिवान 630.4 अंक के साथ शीर्ष पर चल रही। उन्होंने ईरान की अरमिना सादेगियां (629.8) और फातिमा करामजादेह (628.7) को पछाड़ा।

अपूर्वी चंदेला 627.8 अंक के साथ चैथे जबकि अंजुम मोदगिल 624.7 अंक के साथ सातवें स्थान पर रहीं। स्लोवेनिया की जिवा वोरसाक ने महिला 10 मीटर एयर राइफल क्वालीफिकेशन के मुख्य वर्ग में शीर्ष स्थान हासिल किया। महिला 10 मीटर एयर पिस्टल में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी यशस्विनी सिंह देसवाल और दूसरे नंबर की खिलाड़ी मनु भाकर ने क्रमशः 572 और 573 अंक जुटाए। इन दोनों ने इससे पहले इससे बेहतर प्रदर्शन किया है और अगर मुख्य वर्ग में खेल रही होती तो सोमवार को फाइनल में जगह नहीं बना पाती क्योंकि मुख्य टूर्नामेंट में 10वें स्थान पर रही निशानेबाज ने 574 अंक जुटाए। प्रतिस्पर्धा हालांकि काफी कड़ी थी और गत ओलंपिक तथा विश्व चैंपियन अना कोराकाकी मनु के बराबर स्कोर बनाकर 13वें स्थान पर रही और फाइनल में जगह नहीं बना सकी। प्रतिभावान दिव्यांश सिंह पंवार (628.10) पुरुष 10 मीटर एयर राइफल वर्ग में दूसरे स्थान पर रहे। दीपक कुमार (627.4) ने तीसरा जबकि ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर (625.0) ने पांचवां स्थान हासिल किया। चीन के लिहाओ शेंग 630.5 अंक के साथ शीर्ष पर रहे। रूस के व्लादिमीर मासलेनिकोच ने मुख्य क्वालीफिकेशन में 631.8 अंक के साथ शीर्ष स्थान हासिल किया। भारत की राइफल कोच दीपाली देशपांडे ने कहा, ‘‘तोक्यो की हमारी अंतिम तैयारी के लिए यह टूर्नामेंट सर्वश्रेष्ठ संभावित शुरुआत है। पदक के मामले में यह टूर्नामेंट मायने नहीं रखता लेकिन इससे टीम को प्रतियोगिता का काफी अच्छा अनुभव मिलेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ आज सभी प्रभावी दिखे। दिल्ली विश्व कप में भी अपूर्वी के अलावा अन्य सभी तकनीकी रूप से तैयार दिखे थे। आज हमारा ध्यान अपूर्वी पर था और शुक्र है कि वह लय में लौट आई। कोविड और सर्जरी से उबरने के बाद दीपक कुमार ने भी अच्छा प्रदर्शन किया। कुछ और ट्रेनिंग और वे तैयार हो जाएंगे।’ भारतीय टीम इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट में आमंत्रित देश के रूप में हिस्सा ले रही है। टीम एमक्यूएस वर्ग में प्रतिस्पर्धा पेश कर रही है और इसलिए पदक के लिए उनके स्कोर पर विचार नहीं किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *